अध्याय 6 जैव प्रक्रम बहुविकल्पीय प्रश्न 1ण् निम्नलिख्िात में से कौन - सा कथन स्वपोषी जीवों के लिए सही नहीं है? ;ंद्ध वे काबोर्हाइड्रेटों का संश्लेषण काबर्न डाइआॅक्साइड और जल से तथा सूयर् के प्रकाश एवं क्लोरोपिफल की उपस्िथति में कर लेते हैं। ;इद्ध वे काबोर्हाइड्रेटों को स्टाचर् के रूप में भंडारित रखते हैं। ;बद्ध वे काबर्न डाइआॅक्साइड और जल को सूयर् के प्रकाश की अनुपस्िथति में काबोर्हाइड्रेटों में बदल लेते हैं। ;कद्ध वे आहार शंृखलाओं में पृथक पोषी स्तर बनाते हैं। 2ण् जीवों के निम्नलिख्िात वगो± में से किस वगर् के जीव खाद्य पदाथो± को शरीर के बाहर ही पचाकर उसका अवशोषण कर लेते हैं? ;ंद्ध मशरूम, हरे पौधे, अमीबा ;इद्ध यीस्ट, मशरूम, ब्रेड की पफपूँफद ;बद्ध पैरामीश्िायम, अमीबा, अमरबेल ;कद्ध अमरबेल, जूँ, पफीताकृमि 3ण् सही कथन चुनिए। ;ंद्ध विषमपोषी प्राणी अपने भोजन का संश्लेषण स्वयं नहीं करते। ;इद्ध विषमपोषी प्राणी प्रकाश/संश्लेषण प्रिया के लिए सौर ऊजार् प्रयुक्त करते हैं। ;बद्ध विषमपोषी प्राणी अपने भोजन का संश्लेषण स्वयं करते हैं। ;कद्ध विषमपोषी प्राणी काबर्न डाइआॅक्साइड और जल को काबोर्हाइड्रेटों में बदलने में समथर् होते हैं। 4ण् मानव के आहार - नाल के विभ्िान्न भागों का सही क्रम कौन - सा है? ;ंद्ध मुख →आमाशय → छोटी आँत → ग्रसिका → बड़ी आँत ;बृहदांत्राद्ध ;इद्ध मुख → ग्रसिका→ आमाशय → बड़ी आँत ;बृहदांत्राद्ध → छोटी आँत ;बद्ध मुख → आमाशय → ग्रसिका → छोटी आँत → बड़ी आँत ;बृहदांत्राद्ध ;कद्ध मुख → ग्रसिका→ आमाशय → छोटी आँत → बड़ी आँत 5ण् यदि लार में लार - ऐमाइलेज की कमी हो, तब मुख - गुहा में कौन - सी घटना प्रभावित होगी? ;ंद्ध प्रोटीनों का अमीनो अम्लों में विघटित होना ;इद्ध स्टाचर् का शवर्फराओं में विघटित होना ;बद्ध वसाओं का वसा - अम्लों और ग्िलसरोल में विघटित होना ;कद्ध विटामिनों का अवशोषण 6ण् आमाशय का अस्तर निम्नलिख्िात में से एक की उपस्िथति के कारण सुरक्ष्िात बना रहताहै। सही उत्तर चुनिए। ;ंद्ध पेप्िसन ;इद्ध श्लेष्मा ;बद्ध लार ऐमाइलेज ;कद्ध पित्त रस 7ण् आहार - नाल का कौन - सा भाग यकृत से पित्त रस प्राप्त करता है? ;ंद्ध आमाशय ;इद्ध छोटी आँत ;बद्ध बड़ी आँत ;कद्ध ग्रसिका 8ण् आयोडीन घोल की वुफछ बँूदें चावल के पानी में डाली गईं। चावल का पानी नीले - कालेरंग का हो गया। इससे पता चलता है कि चावल के पानी में ;ंद्ध जटिल प्रोटीनें होती हैं ;इद्ध सरल प्रोटीनें होती हैं ;बद्ध वसाएँ होती हैं ;कद्ध स्टाचर् होता है 9ण् आहार - नाल के किस भाग में भोजन अंतिम रूप में पचता है? ;ंद्ध आमाशय ;इद्ध मुख - गुहा ;बद्ध बृहदांत्रा ;बड़ी आँतद्ध ;कद्ध छोटी आँत 10ण् अग्न्याशय रस का कायर् निम्नलिख्िात में से कौन - सा है? ;ंद्ध टिªप्िसन प्रोटीनों को पचा देता है, और लाइपेश काबोर्हाइड्रेटों को ;इद्ध टिªप्िसन पायसीभूत वसाओं को पचा देता है, और लाइपेश प्रोटीनों को ;बद्ध टिªप्िसन और लाइपेश वसाओं को पचा देते हैं ;कद्ध टिªप्िसन प्रोटीनों को पचा देता है और लाइपेश पायसीभूत वसाओं को 11ण् चूने के पानी से भरी परखनली में जब मुँह द्वारा पूँफका जाता है तब चूने का पानी किसकीमौजूदगी के कारण दूिाया हो जाता है? ;ंद्ध आॅक्सीजन ;इद्ध काबर्न डाइआॅक्साइड ;बद्ध नाइट्रोजन ;कद्ध जल - वाष्प 12ण् 13ण् 14ण् 15ण् 16ण् यीस्ट में अवायवीय अभ्िाियाओं का सही क्रम क्या होता है? ;ंद्ध ग्लूकोश कोश्िाकाद्रव्य पायरूवेट माइटाकेाॅन्िड्रया इर्थेनाॅल ़ काबर्नडाइर् आॅक्साइड ;इद्ध ग्लूकोश कोश्िाकाद्रव्य पायरूवेट कोश्िाकाद्रव्य लेक्िटक अम्ल ;बद्ध ग्लूकोश कोश्िाकाद्रव्य पायरूवेट माइटाकेाॅन्िड्रया लेक्िटक अम्ल ;कद्ध ग्लूकोश कोश्िाकाद्रव्य पायरूवेट कोश्िाकाद्रव्य इर्थेनाॅल ़ काबर्न डाइर्आॅक्साइड वायवीय श्वसन के संबंध में निम्नलिख्िात में से कौन - सा कथन सबसे उपयुक्त है? ;ंद्ध ग्लूकोश माइटाकेाॅन्िड्रया पायरूवेट कोश्िाकाद्रव्य ब्व्2़भ्2व़् ऊजार् न्िडया;इद्ध ग्लूकोश कोश्िाकादव्य ्रपायरूवेट माइटाकेाॅª ब्व़्भ्व़् ऊजार्;बद्ध ग्लूकोज कोश्िाकाद्रव्य पायरूवेट़ ऊजार् माइटाकेान्िडॅªया ब्व्2़भ्2व् ;कद्ध ग्लूकोश कोश्िाकाद्रव्य पायरूवेट़ ऊजार् माइटाकेाॅन्िड्रया ब्व्2़भ्2व् ़ ऊजार् 22श्वसन के संबंध मंे निम्नलिख्िात में संे कौन - सा/से कथन सही हैं? ;पद्ध अंतःश्वसन के दौरान, पसलियाँ भीतर की तरप़फ चली जाती हैं और डायप्रफाम ऊपर की तरपफ उठ जाता है। ;पपद्ध वूफपिकाओं के भीतर, गैसों का विनिमय होता है, अथार्त् वूफपिकाओं की वायु की आॅक्सीजन विसरित होकर रुिार में पहुँच जाती है, और रुिार की काबर्न डाइआॅक्साइड विसरित होकर वूफपिकाओं की वायु मंे चली जाती है। ;पपपद्ध हीमोग्लोबिन में आॅक्सीजन की अपेक्षा काबर्न डाइआॅक्साइड के प्रति अिाक बंधुता होती है। ;पअद्ध वूफपिकाओं के कारण गैसों के विनिमय के लिए अिाक सतही क्षेत्रापफल उपलब्ध हो जाता है। ;ंद्ध ;पद्ध और ;पअद्ध ;इद्ध ;पपद्ध और ;पपपद्ध ;बद्ध ;पद्ध और;पपपद्ध ;कद्ध ;पपद्ध और ;पअद्ध अंतःश्वसन के दौरान वायु - प्रवाह का सही मागर् कौन - सा है? ;ंद्ध नासाद्वार → वंफठ → ग्रसनी → श्वासनली → पेफपफड़े ;इद्ध नासामागर् → नासाद्वार → श्वासनली → ग्रसनी→ वंफठ - वूफपिकाएँ ;बद्ध वंफठ → नासाद्वार → ग्रसनी → पेफपफड़े ;कद्ध नासाद्वार → ग्रसनी→ वंफठ→ श्वासनली → वूफपिकाएँ श्वसन के दौरान, गैसों का विनिमय कहाँ होता है? ;ंद्ध श्वासनली और वंफठ में ;इद्ध पेफपफड़ों की वूफपिकाओं में ;बद्ध वूफपिकाओं और गले में ;कद्ध गले और वंफठ में 17ण् हृदय के बारे में निम्नलिख्िात में से कौन - सा/से कथन सही है? ;पद्ध बायाँ अलिंद शरीर के विभ्िान्न भागों से आॅक्सीजनित रुध्िर शरीर प्राप्त करता है,जबकि दायाँ अलिंद पेफपफड़ों में विआॅक्सीजनित रुध्िर प्राप्त करता है। ;पपद्ध बायाँ निलय आॅक्सीजनित रुध्िर को शरीर के विभ्िान्न भागों में पंप कर देता है, जबकिदायाँ निलय विआॅक्सीजनित रुध्िर को पेफपफड़ों में पंप कर देता है। ;पपपद्ध बायें अलिंद में से आॅक्सीजनित रुध्िर दाएँ निलय में चला जाता है जो इस रुध्िर कोशरीर के विभ्िान्न भागों में भेज देता है। ;पअद्ध दायाँ अलिंद शरीर के विभ्िान्न भागों से विआॅक्सीजनित रुध्िर प्राप्त करता है, जबकिबायाँ निलय आॅक्सीजनित रुध्िर को शरीर के विभ्िान्न भागों में पंप कर देता है। ;ंद्ध ;पद्ध ;इद्ध ;पपद्ध ;बद्ध ;पपद्ध तथा ;पअद्ध ;कद्ध ;पद्ध तथा ;पपपद्ध 18ण् संवुफचन के दौरान निम्नलिख्िात में से कौन - सी संरचना हृदय के भीतर रुध्िर को वापसविपरीत दिशा में बहने से रोकती है? ;ंद्ध हृदय के भीतर स्िथत कपाट ;इद्ध निलयों की मोटी पेशीय भ्िािायाँ ;बद्ध अलिंदों की पतली भ्िािायाँ ;कद्ध उपरोक्त सभी 19ण् एकल परिसंचरण, अथार्त् शरीर में होकर एक चक्र के दौरान रुध्िर का हृदय में होकरकेवल एक बार प्रवाहित होना, निम्नलिख्िात में से किन में पाया जाता है? ;ंद्ध लैबियों, वैफमेलिआॅन, सैलामेंडर ;इद्ध हिप्पोवैंफपस, एक्जोसीटस, ऐनाबस ;बद्ध हायला, राना, डैªको ;कद्ध ह्वेल, डाॅल्िपफन, कछुआ। 20ण् निम्नलिख्िात कशेरुकी समूह/समूहों में हृदय आॅक्सीजनित रुध्िर को शरीर के विभ्िान्न भागों में पंप नहीं करता? ;ंद्ध पिसीश और ऐम्िपफबिया ;इद्ध ऐम्िपफबिया और सरीसृप ;बद्ध केवल ऐम्िपफबियन प्राणी ;कद्ध केवल पिसीश 21ण् धमनियों का वणर्न करने के लिए सही कथन चुनिएः ;ंद्ध इनकी भ्िािायाँ मोटी और प्रत्यास्थ होती हैं, इनमें रुध्िर उच्च दाब के साथ बहता है,ये विभ्िान्न अंगों से रुध्िर एकत्रिात करके वापस हृदय में पहुँचाती हैं ;इद्ध इनकी भ्िािायाँ पतली होती हैं और इनके भीतर कपाट होते हैं, इनमें रुध्िर कम दाब केसाथ बहता है, और ये रुध्िर को हृदय से दूर शरीर के विभ्िान्न भागों तक ले जाती हैं ;बद्ध इनकी भ्िािायाँ मोटी एवं प्रत्यास्थ होती हैं, इनमें रुध्िर कम दाब के साथ बहता है,ये रुध्िर को हृदय से ले जाकर शरीर के विभ्िान्न भागों में पहुँचाती हैं ;कद्ध इनकी भ्िािायाँ मोटी एवं प्रत्यास्थ होती हैं, इनमें रुध्िर उच्च दाब के साथ बहता हैऔर ये रुध्िर को हृदय से दूर शरीर के विभ्िान्न भागों तक ले जाती हैं 22ण् वृक्कों की निस्यंदक इकाइयों को कहते हैंμ ;ंद्ध मूत्रानली ;इद्ध मूत्रामागर् ;बद्ध न्यूराॅन ;कद्ध नेÚाॅन 23ण् प्रकाश संश्लेषण प्रिया के दौरान उत्पन्न होनेवाली आॅक्सीजन कहाँ से प्राप्त होती है? ;ंद्ध जल ;इद्ध क्लोरोपिफल ;बद्ध काबर्न डाइआॅक्साइड ;कद्ध ग्लूकोश 24ण् ऊतकों से बाहर आने वाले रुध्िर में किसकी मात्रा अपेक्षावृफत अिाक हो जाती है? ;ंद्ध काबर्न डाइआॅक्साइड ;इद्ध जल ;बद्ध हीमोग्लोबिन ;कद्ध आॅक्सीजन 25ण् निम्नलिख्िात में से कौन - सा कथन सही नहीं है? ;ंद्ध जीव समय के साथ वृि करते हैं ;इद्ध जीवों को अपने शरीर में होने वाली टूट - पूफट की मरम्मत करते रहना चाहिए तथा उसेअपनी संरचना को बनाए रखना चाहिए। ;बद्ध कोश्िाकाओं में अणुओं की गति नहीं होती है। ;कद्ध ऊजार् जैव प्रियाओं के लिए आवश्यक है। 26ण् स्वपोषी में निचित रहने वाली आंतरिक ;कोश्िाकीयद्ध ऊजार् किस रूप में होती है? ;ंद्ध ग्लाइकोजन ;इद्ध प्रोटीन ;बद्ध स्टाचर् ;कद्ध वसा अम्ल 27ण् निम्नलिख्िात समीकरणों में से कौन - से समीकरण को प्रकाश - संश्लेषण प्रिया कासमीकरण माना जाता है? ;ंद्ध 6ब्व् ़ 12भ्व् → ब्भ्व् ़ 6व़् 6भ्व्;इद्ध 6ब्व् ़ भ्व् ़ सूयर् का प्रकाश → ब्भ्व् ़ व़् 6भ्व्;बद्ध 6ब्व् ़ 12भ्व् ़ क्लोरोपिफल $ सूयर् का प्रकाश → ब्भ्व् ़ 6व़् 6भ्व्;कद्ध 6ब्व् ़ 12भ्व् ़ क्लोरोपिफल $ सूयर् का प्रकाश→ ब्भ्व् ़ 6ब्व़् 6भ्व्2261262222 61262222 61262222 61262228ण् उस घटना का चयन कीजिए जो प्रकाश - संश्लेषण में नहीं होती हैः ;ंद्ध क्लोरोपिफल द्वारा प्रकाश ऊजार् का अवशोषण ;इद्ध काबर्न डाइआॅक्साइड का काबोर्हाइडेªटों में अपयचन ;बद्ध काबर्न का काबर्न डाइआॅक्साइड में उपचयन ;कद्ध प्रकाश ऊजार् का रासायनिक ऊजार् में परिवतर्न 29ण् पौधों में रंध्रों का खुलना तथा बंद होना निभर्र होता हैμ ;ंद्ध आॅक्सीजन पर ;इद्ध तापमान पर ;बद्ध द्वार - कोश्िाकाओं के अंदर उपस्िथत जल पर ;कद्ध रंध्रों में ब्व्2 की सांद्रता पर 30ण् अिाकांश पौधे नाइट्रोजन को किस रूप में अवशोष्िात करते हैं? ;पद्ध प्रोटीन ;पपद्ध नाइट्रेट एवं नाइट्राइट ;पपपद्ध यूरिया ;पअद्ध वायुमंडलीय नाइट्रोजन ;ंद्ध ;पद्ध और ;पपद्ध ;इद्ध ;पपद्ध और;पपपद्ध ;बद्ध ;पपपद्ध और ;पअद्ध ;कद्ध ;पद्ध और;पअद्ध 31ण् पाचन क्षेत्रा में भोजन के साथ मिलने वाला पहला एंजाइम कौन - सा है? ;ंद्ध पेप्िसन ;इद्ध सेलुलेश ;बद्ध ऐमाइलेज ;कद्ध टिªप्िसन 32ण् निम्नलिख्िात में से कौन - सा/से कथन सही हैं? ;पद्ध पायरूवेट को यीस्ट की सहायता से इर्थेनाॅल और काबर्न डाइआॅक्साइड में बदला जा सकता है। ;पपद्ध वायवीय जीवाणुओं में किण्वन होता है। ;पपपद्ध माइटोकाॅन्िड्रया में किण्वन होता है। ;पअद्ध किण्वन अवायवीय श्वसन का ही एक रूप है। ;ंद्ध ;पद्ध और;पपपद्ध ;इद्ध ;पपद्ध और ;पअद्ध ;बद्ध ;पद्ध और;पअद्ध ;कद्ध ;पपद्ध और;पपपद्ध 33ण् आॅक्सीजन की कमी से िकेट के ख्िालाडि़यों की पेश्िायों में प्रायः ख्िांचाव उत्पन्न होने लगता है। ऐसा इस कारण होता हैμ ;ंद्ध पायरूवेट के इर्थेनाॅल में बदलने के कारण ;इद्ध पायरूवेट के ग्लूकोश में बदलने के कारण ;बद्ध ग्लूकोश का पायरुवेट में न बदलने के कारण ;कद्ध पायरूवेट का लैक्िटक अम्ल में बदलने के कारण 34ण् हमारे शरीर में मूत्रा का सही मागर् चुनिएμ ;ंद्ध वृक्क → मूत्रानली → मूत्रामागर् → मूत्राशय ;इद्ध वृक्क → मूत्राशय → मूत्रामागर् → मूत्रानली ;बद्ध वृक्क → मूत्रानलियाँ→ मूत्राशय → मूत्रामागर् ;कद्ध मूत्राशय → वृक्क→ मूत्रानली → मूत्रामागर् 35ण् मानवों के ऊत्तकों मंे आॅक्सीजन की कमी होने के कारण पायरूवेट अम्ल किस कोश्िाकांग के भीतर लैक्िटक अम्ल में बदल जाता है? ;ंद्ध कोश्िाका द्रव्य ;इद्ध क्लोरोप्लास्ट ;बद्ध माइटोकाॅन्िड्रया ;कद्ध गाॅल्जी काय लघुउत्तरीय प्रश्न 36ण् निम्नलिख्िात के नाम बताइएः ;ंद्ध पादपों में होने वाली वह प्रिया जो सूयर् के प्रकाश की ऊजार् को रासायनिक ऊजार् में बदलती है। ;इद्ध वे जीव जो अपना भोजन स्वयं तैयार कर लेते हैं ;बद्ध वह कोश्िाकांग जहाँ प्रकाश - संश्लेषण प्रिया संपन्न होती है ;कद्ध रंध्र के चारांे तरपफ स्िथत कोश्िाकाएँ ;मद्ध वे जीव जो अपना भोजन स्वयं तैयार नहीं कर सकते ;द्धि आमाशय की जठर ग्रंथ्िायों द्वारा ड्डावित एक एंजाइम जो प्रोटीनों पर अभ्िािया करता है। 37ण् सभी पौधे दिन में तो आॅक्सीजन बाहर निकालते हैं और रात में काबर्न डाइर्आॅक्साइड, क्या आप इस कथन से सहमत हैं, कारण बताइए। 38ण् बताइए कि द्वार - कोश्िाकाएँकिस प्रकार रंध्रों के खुलने और बंद होने का नियमन करती हैं। 39ण् दो हरे पौधों को अलग - अलग आॅक्सीजन मुक्त पात्रों में रखा गया। एक पात्रा को अंधेरे में और दूसरे को अविच्िछन्न प्रकाश में। बताइए कि इनमें से कौन - सा पौधा अिाक समय तक जीवित रहेगा? कारण बताइए। 40ण् यदि कोइर् पौधा दिन में काबर्न डाइआॅक्साइड निकाल रहा है और आॅक्सीजन ले रहा है, तोक्या इसका अथर् यह हुआ कि उस पौधे में प्रकाशसंलेषण नहीं हो रहा है? अपने उत्तर का औचित्य बताइए। 41ण् जल से बाहर निकाले जाने पर मछलियाँ क्यों मर जाती हैं? 42ण् स्वपोषी और विषमपोषी जीवों में अंतर बताइए। 43ण् क्या किसी जीव के लिए ‘‘पोषण’’ आवश्यक है? विवेचना कीजिए। 44ण् पृथ्वी पर से यदि सभी हरे पौधे समाप्त हो जाएँ तो क्या होगा? 45ण् गमले में लगे एक स्वस्थ पौधे की पत्ितयों पर वेसलीन लगा दी गईं क्या यह पौधा लंबेसमय तक जीवित बना रहेगा? अपने उत्तर के समथर्न मे कारण बताइए। 46ण् वायवीय श्वसन किस प्रकार अवायवीय श्वसन से भ्िान्न होता है? 47ण् काॅलम । के अंतगर्त दिए गए शब्दों को काॅलम ठ के शब्दों से मिलान कीजिए। काॅलम;।द्ध काॅलम ;ठद्ध ;ंद्ध फ्रलोएम ;इद्ध नेÚाॅन ;बद्ध श्िाराएँ ;कद्ध रुिार पटि्टकाएँ ;पद्ध ;पपद्ध ;पपपद्ध ;पअद्ध उत्सजर्न भोजन का परिसंचरण रुिार का थक्कन विआॅक्सीजनित रुिार 48ण् धमनी और श्िारा मंे अंतर बताइए। 49ण् प्रकाश - संश्लेषण के लिए पत्ती में कौन - कौन से अनुवूफलन पाए जाते हैं? 50ण् माँसाहारियों की अपेक्षा शाकाहारियों की छोटी आँत लंबी क्यों होती है? 51ण् जठर ग्रंथ्िायों से यदि श्लेष्मा का ड्डाव न हो तो बताइए क्या होगा? 52ण् वसा के पायसीकरण का क्या महत्व है? 53ण् आहार - नाल के भीतर भोजन की गति क्यों होती है? 54ण् पचे हुए भोजन का अवशोषण प्रधानतः छोटी आँत में क्यों होता है? 55ण् वगर् । के कथनों को वगर् ठ में दिए गए जीवों से मिलाइए। 56ण् स्थलीय प्राण्िायों की अपेक्षा जलीय प्राण्िायों में श्वसन - दर कहीं अिाक तीव्र गति से क्यों होती है? 57ण् मानव हृदय में रुध्िर - परिसंचरण को ‘‘दोहरा परिसंचरण’’ क्यों कहते हैं? 58ण् हृदय में चार कक्ष होने के क्या लाभ हैं? 59ण् प्रकाश - संश्लेषण की प्रमुख घटनाओं की चचार् कीजिए। 60ण् निम्नलिख्िात परिस्िथतियों में से प्रत्येक का प्रकाश संश्लेषण की दर पर क्या प्रभाव पड़ता है? ;ंद्ध बादलों से आच्छादित दिनों में ;इद्ध क्षेत्रा में वषार् न होने पर ;बद्ध क्षेत्रा में पयार्प्त खाद डालने पर ;कद्ध ध्ूल के कारण रंध््रों के बंद हो जाने पर 61ण् जीवधारियों में ऊजार् - मुद्रा का नाम बताइए। यह ऊजार् कहाँ और कब उत्पन्न होती है? 62ण् अमरबेल, किलनियों और जोकों के संदभर् में कौन - सी बात सामान्य होती हैं? 63ण् भोजन के पाचन में मुख की क्या भूमिका होती है? 64ण् आमाशय की भ्िािा में विद्यमान शठर ग्रंथ्िायों के क्या - क्या कायर् होते हैं? 65ण् काॅलम । के अंतगर्त दिए गए शब्दों को काॅलम ठ के शब्दों से मिलाइएः 66ण् निम्नलिख्िात एंजाइमों के उचित ियाधरों ;सब्स्ट्रेटोंद्ध के नाम बताइएः ;ंद्ध टिªप्िसन ;इद्ध ऐमाइलेज ;बद्ध पेप्िसन ;कद्ध लाइपेज 67ण् धमनियों की अपेक्षा श्िाराओं की भ्िािायाँ पतली क्यों होती हैं? 68ण् रुध्िर में पटि्टकाएँ न हों तो क्या होगा? 69ण् प्राण्िायों की अपेक्षा पौधों की ऊजार् आवश्यकताएँ कम होती हैं। व्याख्या कीजिए। 70ण् जड़ों के जाइलम में जल क्यों और वैफसे अविच्िछन्न रूप से चढ़ता जाता है? 71ण् पौधों के लिए वाष्पोत्सजर्न क्यों महत्वपूणर् होता है? 72ण् पौधों की पिायाँ उत्सजर्न में किस प्रकार सहायता करती हंै? वगर् ;।द्ध वगर् ;ठद्ध ;ंद्ध स्वपोषी पोषण ;इद्ध विषमपोषी पोषण ;बद्ध परजीवी पोषण ;कद्ध खाद्य - धानियों के भीतर पाचन ;पद्ध ;पपद्ध ;पपपद्ध ;पअद्ध जोंक पैरामीश्िायम हिरन हरे पौधै काॅलम ;।द्ध ळतवनच ;ठद्ध ;ंद्ध टिªप्िसन ;पद्ध अग्नाशय ;इद्ध ऐमाइलेज ;बद्ध पित्तरस ;पपद्ध ;पपपद्ध यकृत जठर ग्रंथ्िायाँ ;कद्ध पेप्िसन ;पअद्ध लार दीघर्उत्तरीय प्रश्न 73ण् अमीबा में पोषण प्रिया की व्याख्या कीजिए। 74ण् मानव आहार - नाल का वणर्न कीजिए। 75ण् मानव में साँस लेने की प्रिया की व्याख्या कीजिए। 76ण् पादप वृि के लिए मृदा के महत्व की व्याख्या कीजिए। 77ण् मानव आहार - नाल का आरेख बनाइए और उसमें निम्नलिख्िात भागों को नामांकित कीजिएः मुख, ग्रसिका, आमाशय, छोटी आँत 78ण् मानवों मेेें काबोर्हाइड्रेटों, प्रोटीनों और वसाओं का पाचन किस प्रकार होता है? 79ण् प्रकाश - संश्लेषण की प्रणाली की व्याख्या कीजिए। 80ण् जीवधारियों में विखंडन के तीन पथों की व्याख्या कीजिए। 81ण् मानवों में हृदय में से होकर रुध्िर - प्रवाह का वणर्न कीजिए। 82ण् वृक्कों में मूत्रा निमार्ण की प्रिया का वणर्न कीजिए।

RELOAD if chapter isn't visible.