पंख फैलाएते जाएँ, उड़ँसिर पर मेेरे है, सुंदर पंखों पर नाश है। सुंदर नाच दिखाता हँू, राष्ट्रीय पक्षी कहलाता हूँ। आकाश से सीध्े आती हँू, झपट चूहा ले जाती हँू। पूँछ है मेरी खाँचे वाली, हँू मैं बड़ी निराली। हरे - हरे हैं मेरे पंख, लाल है मेरी का रंग। हरी मिचर् मैं खाता हँू, मैं कहलाता हँू। काले - काले है मेरे, रंग। काँव - काँव मैं शोर मचाता, । 50 वुफहू - वुफहू आवाश लगाती, मध्ुर - मध्ुर मैं गीत सुनाती। सबके मन को हँू मैं भाती, देखो ऋऋऋऋऋऋ मैं कहलाती। मरे जानवर खाकर मैं, जगह सा़प फ कर देता हँू। उफँचेे ऋऋऋऋऋऋ में उड़ता हँू, गि( मैं कहलाता हँू। चोंच है मेरी बड़ी निराली, रंग सलेटी, पंजे ऋऋऋऋऋ, सुइर् हो जैसे सिलने वाली। गुटर गँू की भर कर चाबी। पत्ते सिल कर घर बनाउँफ, दिन भर शोर मचाता हँू,ऋऋऋचिडि़या मैं कहलाउँफ। मैं कहलाता हँू। पेड़ के में छेद बनाउँफ, उसमें छिपे कीड़े मैं खाउँफ। टुक - टुक करता जाता हूँ, कठपफोड़वा कहलाता हूँ। 51 अरे जगा दिया। आज जंगल में इतना शोर वैफसा...? उल्लू जी। सारे पक्षी अपनी अपनी बड़ाइर् कर रहे हैं और शोर मचा रहे हैं। उल्लू बोला μ अब, बंद क्यों नहीं करते यहशोरगुल? यह वैफसा झगड़ा? हम सभी में वुफछ - न - वुफछ खास है। हमारे पंख, पैर, चोंच और बोली चाहे अलग - अलग हैं, पर हम सभी पक्षी हैं। सोचो, अगर हम सब एक जैसे दिखते और एक - सा खाते। बोली भी यदि एक - सी होती, तो कितनी नीरस होती हमारी यह दुनिया! ❉ पाठ में आए पक्ष्िायों में से तुमने किन - किन को देखा है? उनके नाम लिखो। अब बाहर जाकर देखो तुम्हें कितने पक्षी दिखते हंै। पेड़ पर ही नहीं, मैदान में, पानी में, पानी के आस - पास तथा झाडि़यों मेें भी देखना। ❉ पक्ष्िायों के नाम भरो तथा सही जगह पर ‘9’ का निशान लगाओ। यदि नाम नहीं जानते तो उनकी कोइर् पहचान लिखो। बच्चे बाहर पक्ष्िायों को देखेंगे तो कागश पर आसानी से पहचान कर पाएँगे। कविताकोबढ़ानेवफेलिए बच्चों को पक्ष्िायों के गुण पता होने से मदद मिलेगी, चाहे वे उनके नाम न भी जानते हों। 52 जहाँ देखा है पक्षी का नाम पानी में पेड़ पर शमीन पर घर में उड़ते हुए क्या तुमने कभी ध्यान दिया है कि अलग - अलग पक्ष्िायों की चोंच भी अलग - अलगतरहकीहोतीहैं?नीचे वुफछ पक्ष्िायों की चोंच केचित्राहैं। इनको ध्यान से देखो और पहचानो μ ये किन पक्ष्िायों की चोंच हैं। नीचे उनके नाम लिखो। अगले पृष्ठ पर खाली खाने में किसी अन्य पक्षी की चोंच बनाओ और उसमें रंग भरो। उस पक्षी का नाम भी लिखो। बच्चों की पक्ष्िायों में रुचि बढको नोट करना भी सीखें। 53 ़ाने के लिए, बच्चे चुपचाप बैठकर पक्ष्िायों को देखें तथा अपनेअवलोकनों देखा, पक्ष्िायों की चोंच कितनी अलग - अलग तरह की होती है। उतना ही अलग - अलग तरह का होता है उनका भोजन! पक्षी तरह - तरह की चीशें खाते हंै। कोइर् पफल खाता है, तो कोइर् बीज। कोइर् कीड़े - मकौड़े खाता है, तो कोइर् मछली। चित्रा में दिए गए पक्ष्िायों को उनके भोजन के साथ जोड़ो। 54 क्या तुमने कभी ध्यान दिया है कि पक्ष्िायों के उड़ने, चलने और गदर्न घुमाने के तरीके अलग - अलग हैं। मैना झटके से अपनी गदर्न आगे - पीछे करती है। उल्लू तो अपनी गदर्न पीछे तक घुमा सकता है। क्या तुम भी ऐसा कर सकते हो? कइर् पक्षी ऐसे हैं, जो हमारी बोली की नकल कर सकते हैं। क्या तुम ऐसे किसी पक्षी का नाम जानते हो? उसका चित्रा अपनी काॅपी में बनाओ और उसका नाम भी लिखो। बाहर खुले में जाओ। पक्ष्िायों को देखो कि वे वैफसे चलते हैं, उनके पंख वैफसे हंै और वे गदर्न वैफसे हिलाते हैं। पक्ष्िायों की आवाशें भी सुनो। किन्हीं तीन पक्ष्िायों की आवाशों की नकल करो। उनके गदर्न को हिलाने की भी नकल करो। अपने साथ्िायों से कहो कि वे पहचानें तुमने किस पक्षी की नकल की ह।ैपक्ष्िायों के पंख अलग - अलग रंगों व डिशाइन के होते हंै। उनके पंख उड़ने में मदद करते हंै। इतना ही नहीं, पंख उनके शरीर को गमर् भी रखते हैं। समय - समय पर पक्ष्िायों के पुराने पंख झड़ जाते हैं और नए पंख आ जाते हैं। तुमने भी कइर् बार पक्ष्िायों के गिरे हुए पंखों को देखा होगा। पक्ष्िायों के गिरे हुए पंखों को इकट्टòा करो और उनके रंग, आकार और आवृफति पर चचार् करो। एक पक्षी का चित्रा अपनी काॅपी में बनाओ और उस पर पंख चिपकाओ। उसका नाम भी लिखो। ❉ पक्ष्िायों के अलावा और कौन - कौन से जानवर उड़ सकते हैं? ❉ अगर तुम भी पक्ष्िायों की तरह उड़ सकते, तो तुम कहाँ - कहाँ जाते? क्या - क्या करते? यदि पक्षी उड़ न सवेंफ, बस अपने पैरों पर ही चलें तो क्या होगा? आओ बनाएँ मुगार् एक चैकोर कागश लो। 1.इसे चित्रा के अनुसार बिंदुओं की जगह से मोड़ो। 2.चित्रा में दिखाए गए बिंदुओं से कागश को आध मोड़ो। 3.अब कागश को बिंदु - रेखा से तीर के निशान की ओर मोेड़ो। 4.चित्रा में दिखाए गए तरीके से कागश को मोड़ कर मुगेर् की चोंच बनाओ। 5.अब एक लाल रंग के कागश को मुगेर् की कलगी के आकार में काटकर उसके सिर के उफपर चिपका दो। एक छोटे से काले कागश को गोल काटकर मुगेर् की आँख की जगह चिपका दो।

RELOAD if chapter isn't visible.